Menu

Emerald News

Emerald News

 
मुस्लिम विरोध प्रदर्शन के बीच देश में CAA लागू, सरकार ने जारी किया नोटिफिकेशन, प्रताड़ित हिन्दू को मिलेगी देश में शरण 
Emerald New New Delhi : नागरिकता संशोधन कानून पूरे देश में लागूसरकार ने नोटिफिकेशन भी जारी किया
नागरिकता संशोधन कानून (CAA) 2019 आज से पूरे देश में लागू हो चुका है. इसको लेकर सरकार ने नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है.
 
देश में कई जगहों पर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन देखने को मिला है. वहीं नागरिकता कानून पर देश के कई इलाकों में हिंसा भी देखने को मिली है. हालांकि अब सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) 2019 का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. इसके साथ ही 10 जनवरी 2020 से ही नागरिकता संशोधन कानून पूरे देश में लागू हो चुका है.
 
गृह मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना में लिखा है, 'केंद्रीय सरकार, नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 (2019 का 47) की धारा 1 की उपधारा (2) द्वारा प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए, 10 जनवरी 2020 को उस तारीख के रूप में नियत करती है जिसको उक्त अधिनियम के उपबंध प्रवृत होंगे.
आखिर क्या है नागरिकता संशोधन कानून 
 
नागरिकता अधिनियम, 1955 में बदलाव करने के लिए केंद्र सरकार नागरिकता संशोधन बिल लेकर आई. बिल को संसद में पास करवाया गया और राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद यह कानून बन गया. अब सरकार ने इसका नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है. इसके साथ ही अब पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से आए हुए हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख, ईसाई, पारसी शरणार्थियों को भारत की नागरिकता मिलने में आसानी होगी. अभी तक उन्हें अवैध शरणार्थी माना जाता था | आपको बता दे ये जो CAA के नाम जो विरोध चल रहा है दरसल ये विरोध CAA का बिलकुल नहीं है , ये विरोध मोदी कारकार और पिछले दिनों जो सरकार ने बड़े काम किए है तीन तलाक , राम मंदिर , धरा 370 , मुस्लिम दंगाइयों पर कड़ी कार्यवाही करना ये विरोध इन सब कामो का किया जा रहा है | बताया जा रहा है की इस विरोध को कुछ हिन्दू लोगो का भी समर्थन हासिल है जबकि ऐसा बिलकुल नहीं है , ये विरोध सिर्फ मुस्लिम लोगो का है और इस विरोध को समर्थन कुछ राजनैतिक पार्टिया कर रही है जैसे , आम आदमी पार्टी , कांग्रेस , TMC, समाजवादी पार्टी , BSP, RJD, इन सब पार्टयों के सहयोग से ये प्रदर्शन हो रहा है और इन सब पार्टिओ के कुछ हिन्दू कार्यकर्ता है वो भी कभी कभी पार्टी प्रोटेस्ट में चले जाते है इन सारी गतिविधिओ के पीछे सिर्फ एक ही मकसद है बीजेपी मोदी सरकार को हटाना . 
एक विशेष वर्ग का मानना है की मोदी सरकार हिन्दुओ की सरकार है और इनको सरकार चलाना ठीक से नहीं आता (आरएसएस) हिन्दुओ को प्रोटेक्ट, और हिन्दुओ की एकता पर काम करती है जो की एकदम गलत है . 
 

Emerald News

 
बीमारी भी नहीं रोक पाई इस मॉडल प्राथना जगन  का रास्ता, फैशन जगत में गूंज रहा नाम
Emerald News New Delhi : फैशन जगत की युवा मॉडल ने मॉडलिंग जगत के उभरते सितारों के लिए अपनी सच्ची कहानी बताई और युवाओं को करियर के टिप्स भी दिए. प्रार्थना जगन ने अपनी जिंदगी से जुड़ा एक किस्सा साझा किया और बताया कि आखिर कैसे उन्होंने फैशन जगत में सक्सेस हासिल की.     
 
प्रार्थना ने बताया कि जब वह 11 साल की थी तभी वेटलिगो नाम की बीमारी ने उन्हें घेर लिया था. यह एक स्किन डिसीज होता है जिसमें लोगों की त्वचा धीरे-धीरे खराब होने लगती है. बचपन में मेकअप करना उनकी मजबूरी हो गई थी.
 
रोजाना 30 मिनट मेकअप कितना मुश्किल?
 
प्रार्थना ने कहा, 'जिस में उम्र में बच्चे सनस्क्रीन लगाकर घर से बाहर निकलते हैं, उस उम्र में मैं करीब 30 मिनट मेकअप करने के बाद ही घर से बाहर जा सकती थी. मैं स्कूल की क्रिकेट टीम का हिस्सा थी, लेकिन इस रोग की वजह से मुझे क्रिकेट से भी दूरी बनानी पड़ी.'
 
तो क्या फिट रहने के लिए ऐसी चीजें खाते हैं मॉडल जगत के सितारे!
 
प्रार्थना ने आगे बताया कि लगातार 8 साल तक रोजाना 30 मिनट मेकअप करने के बाद स्कूल और इवेंट्स के लिए बाहर जाना एक मुश्किल दौर था. दोस्तों से लेकर रिश्तेदार तक मेरी इस तकलीफ के बारे में नहीं जानते थे. साल 2016 में मेरे यूट्यूब चैनल बनाने से पहले तक इस रोग के बारे में किसी को नहीं पता था.

Emerald News

 
बाल कलाकार सिद्धि गौरांगी भूटानी ने नए साल 2020 पर लोगो को दिए कई बड़े सन्देश 
Emerald News नई दिल्ली : बाल कलाकार सिद्धि भूटानी ने एक ख़ास बातचित के दौरान नए साल पर लोगो को दिए कई बड़े सन्देश | सिद्धि ने बताया मेरे मम्मी पापा मुझे हर समय अपने अंदर की कला दिखाने के लिए प्रेरित करते रहते है और मुझे नई नई चीज़े करने के लिए बोलते रहते है कभी कहते है डांस अच्छा करो कभी बोलते है एक्टिंग और ज्यादा अच्छी किया करो कभी बोलते है सिद्धि आपको एक बड़ी मॉडल बनना है | में सभी मम्मी पापा से बोलना चाहूंगी की वो भी अपने बच्चो को अपनी प्रतिभा दिखाने का ज्यादा से ज्यादा मौका दे ताकि मुझे और भी नए नए साथी मिले | वही अगर हम सिद्धि की बात करे तो सिद्धि एक प्रसिद्ध बाल कलाकार है ये अभी से मॉडलिंग में अपना लोहा मनवा रही है डांस और संगीत इनके दिल में बस्ता है और अब आने वाले कुछ ही दिनों में आप सिद्धि को बॉलीवुड फिल्म में भी देख पाएंगे फिल्म में सभी लोगो को इस छोटी बच्ची की एक्टिंग देखने को मिलेगी | बस ये कहने के लिए तो एक छोटी बच्ची है पर बात करने में ये बड़े बड़े लोगो को पीछे छोड़ देती है | सिद्धि के बारे में जब हमने उसकी मम्मी कृति भूटानी से बात की तो उन्होनी सिद्धि के बारे में बताया की ये बचपन से ही ऐसी है जबसे इसने होश सभाला है तब से इसका गाने और नाच कूद में ही इंटरेस्ट रहता था अब ये काफी जगह शो में जाती रहती है और हम लोगो से जो हो सकता है हम अपने बच्चे की प्रतिभा के लिए करते है और बाकि लोगो को भी अपने बच्चो की प्रतिभा पर काम करना चाहिए | जानकारों का मानना है सिद्धि के बारे में बताया जाता है ये एक ऐसी बच्ची है जिसके अंदर काफी प्रतिभाएं एक साथ है उसी वजह से आज कला जगत में काफी नाम आगे बढ़ता जा रहा है .

Emerald News

सेलिब्रिटी मॉडल रघुवीर देवगड़े ने देश की जनता को दी नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं
Emerald News : सेलिब्रिटी मॉडल रघुवीर देवगड़े ने देश की जनता को नए साल की शुभकामनाएं दी एक खास बातचीत में रघुवीर ने बताया ये साल हमारे देश के लोगो के लिए खास होने वाला है | उन्होंने बताया की 2020 में हमारा देश और मज़बूती से आगे बढ़ेगा और हमारे देश के हर नागरिक से लिए खुशिओ भरा होगा ये साल हमारा देश तेज़ी से हर सेक्टर में आगे बढ़ रहा है हमारे देश का युआ आज जोश से लबालब भरा है और देश के लिए कुछ भी करने को त्यार है साल 2019 में हम काफी चीज़े पीछे छोड़कर जा रहे है और ये साल हमारे देश के लिए बहुत ही यादगार रहेगा क्योकि इसी साल हमारा कश्मीर का मामला सुलझा है और वही प्रभु श्री राम मंदिर का मामला जो कई सो साल पहले से लंबित पता हुआ था इस साल उसका भी निपटारा हो गया | सेलिब्रिटी रघुवीर देवगड़े के बारे में बताया जाता है ये काफी जोशीले स्टार है और काफी बड़े बड़े प्रोग्राम में इनकी मौजूदगी रहती है जिस प्रोग्राम में भी ये जाते है उस प्रोग्राम की शान अपने आप बढ़ जाती है माना जाता है सेलिब्रिटी रघुवीर देवगड़े जी की पकड़ बॉलीवुड में काफी अच्छी मानी है और बहुत से बॉलीवुड स्टार इनके संपर्क में रहते है उसके साथ ही रघुवीर देवगड़े जी का सामाजिक व् राजनैतिक जीवन में बहुत बड़ा योगदान रहता है ये काफी गरीब लोगो के मदद समय समय पर करते रहते है फिर चाहे वो किसी का सरकारी काम हो या किसी की आर्थिक मदद का सेलिब्रिटी देवगड़े जी उसमे बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते है .

Emerald News

 
अगले हफ्ते हो सकता है दिल्ली विधानसभा चुनावों का ऐलान
Emerald News New Delhi : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अगले साल फरवरी में चुनाव कराए जा सकते हैं. गुरुवार को हुई बैठक में निर्वाचन आयोग ने फरवरी में चुनाव कराने को लेकर चर्चा की. इसके साथ ही जनवरी के पहले सप्ताह में चुनावों के तिथियों की घोषणा की जा सकती है. चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग की तैयारियों पर चर्चा की गई. इस बैठक में सुरक्षा, अंतिम मतदाता सूची के प्रकाश और चुनावी इंतजाम पर बातचीत हुई. समीक्षा बैठक में दिल्ली के सीईओ, मुख्य सचिव, और केंद्र सरकार की ओर से कई बड़े अधिकारी भी शामिल रहे. इस बैठक में मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा और उनके दोनों सहयोगी आयुक्त, महानिदेशक, सभी उपायुक्त, निदेशक, और उपनिदेशक भी मौजूद थे. इस बैठक में हुए निर्णयों के बाद अब कभी भी दिल्ली की विधान सभा के चुनावों की घोषणा की जा सकती है. माना जा रहा है कि चुनावों की घोषणा जनवरी के पहले हफ्ते में घोषित हो जाएंगे आपको बता दे जिस हिसाब से दिल्ली में चुनावी समीकरण बन रहे है उस हिसाब से लगता है पिछली बार की तरह आम आदमी पार्टी को 67 सीट मिलना दूर की कौड़ी नज़र आ रहा है माना जा रहा है आप आदमी पार्टी को इस बार भारी सीटों का नुकशान हो सकता है जबकि जिस हिसाब से आम आदमी पार्टी आपने कामो का बखान करने में लगी है उस हिसाब से जब पार्टी को कोई नहीं जनता था तब लोगो ने 67 सीट जिताए जबकि इस बार तो लोगो ने आम आदमी पार्टी का पांच साल काम देख लिया है उस हिसाब से 70 में से 70 सीट जितनी चाहिए मगर ये बात गले से उतरना थोड़ा मुश्किल है वही अगर पार्टी की इस बार 67  सीट से भी कम आती है तो सरकार के कामो पर ऊगली उठ सकती है कयास ये भी लगाए जा रहे है आम आदमी पार्टी चुनाव से पहले कांग्रेस के साथ गठबंठन कर सकती है और अगर सीटों को लेकर पेच फसता है तो ये दोनों पार्टिया आपस में गठबंधन कर लेंगी परन्तु बीजेपी पर किसी भी तरह के गठबंधन का कोई फरक नहीं पड़ेगा क्योकि माना जाता है बीजेपी का वोट एकदम फिक्स होता है और इस बार तो बीजेपी का वोट बढ़ता तय माना जा रहा है अब देखना ये है बीजेपी सरकार बना पाती है या नहीं .

Emerald News

 
यूपी के कई जिलों में प्रदर्शनकारियों के चेहरों की पहचान के लिए जगह जगह लगे पोस्टर  
Emerald News New Delhi : उत्तर प्रदेश में 19 दिसम्बर से शुरू हुई हिंसा की आंच ने पूरा प्रदेश सुलगा दिया. हिंसा की जांच के लिए पुलिस ने अब शुरूआत कर दी है. जांच के लिए पुलिस ने हिंसा करने वालों की पहचान के लिए सभी प्रभावित जिलों से मीडिया और सीसीटीवी से फुटेज खंगाली और उसके आधार पर इलाके के शामिल लोगों की पहचान की गई है.
 
यही नहीं हिंसा में शामिल लोगों की फोटोज के पोस्टरों को यूपी के कई जिलों में चिपकाया गया है ताकि इनके बारे में कोई भी सूचना दे सके. यूपी के अमरोहा, अलीगढ, मेरठ, सहारनपुर जिलों में ऐसे पोस्टर लगाए हैं ताकि आम लोगों की मदद से उपद्रवियों की पहचान की जा सके.
 
800 से ज्यादा लोग हो चुके गिरफ्तार
 
इस तरीके से पुलिस पूरे प्रदेश में करीब ढाई हजार लोगों को पकड़ चुकी है जिसमें से पूछताछ के बाद 800 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. इसके अलावा पांच हजार से ज्यादा आरोपियों की प्रिवेंटिव अरेस्ट किया गया है. पुलिस के मुताबिक इसके बाद पूछताछ के आधार पर दूसरे उपद्रवियों को पकड़ना और फिर इस मामले में असली साजिशकर्ताओं तक पहुंचना है.
 
वहीं यूपी सरकार के मुताबिक इस पूरे मामले में प्रतिबंधित संगठन सिमी के एक नये हिस्से का हाथ है जिसका नाम पिपुल्स फ्रंट ऑफ इंडिया है. अगर सरकार के आरोपों को सच माने तो ये पूरा मामला पहले से प्रायोजित हो सकता है. लिहाजा ये मामला और भी गम्भीर हो जाता है. अब सवाल उठता है कि क्या पिपुल्स फ्रठ ऑफ इंडिया किसी राजनैतिक पार्टी के इशारे पर सियासी फायदा पहुंचाने के लिये ऐसा कर रही थी? पु्लिस इस तरह से भी मामले की जांच कर रही है.

Emerald News

 
राज्यसभा से नागरिकता बिल पास, पीएम मोदी ने बताया ऐतिहासिक दिन
Emerald News New Delhi : लोकसभा के बाद बुधवार को राज्यसभा से भी नागरिकता संशोधन विधेयक पर मुहर लग गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकता संशोधन विधेयक पास होने पर खुशी जताई है. प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की करुणा और भाईचारे के लिए यह ऐतिहासिक दिन है. मुझे खुशी हो रही है कि नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 राज्यसभा से पास हो गया है. उन सभी सांसदों का धन्यवाद, जिन्होंने वोट दिया.
इस बिल के पास होने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर खुशी जाहिर की है. अमित शाह ने कहा है कि जैसे ही नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 पास हुआ, करोड़ों पीड़ित और वंचित लोगों के सपने सच हो गए. अमित शाह ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभारी हूं कि उन्होंने प्रभावित लोगों के आत्मसम्मान की रक्षा की. मैं सबको शुक्रिया कहना चाहता हूं. राज्यसभा में नागरिकता संशोधन बिल पर हो रही वोटिंग के दौरान बिल के पक्ष में 125 और विपक्ष में 99 वोट पड़े | आपको बता दे जो लोग इस बिल का विरोध कर रहे है, दरसल वो इस बिल का विरोध नहीं कर रहे उनसब का विरोध हिन्दुओ को लेकर है क्योकि वो लोग नहीं चाहते की देश से बाहर रहने वाले हिन्दू दोबारा हिंदुस्तान में वापसी करे,  बाकि उनसब का तो ये मानना है पाकिस्तान में अगर हिन्दुओ पर अत्याचार हो रहा है तो वो होते रहना चाहिए ताकि हिंदुस्तान में रहने वाले हिन्दू विरोधी लोगो को ख़ुशी मिलती रहे , जहा तक इस बिल को लेकर हिंदुस्तान में रहने वाले मुसलमानो की बात है , संसद में ग्रह मंत्री जी साफ कर चुके है हमारे देश में रहने वाले मुस्लिम को इस बिल से कोई खतरा नहीं .
 
 
 
 

Emerald News

मोदी सरकार का नया आदेश- RC और DL से लिंक से कराना होगा अपना मोबाइल नंबर  
Emerald News नई दिल्लीमोदी सरकार का आदेश- RC और DL से लिंक से कराना होगा अपना मोबाइल नंबर
अब वाहनों के दस्तावेजों यानी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी), ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल), पॉल्यूशन सर्टिफिकेट समेत अन्य को मोबाइल नंबर से लिंक कराना जरूरी हो जाएगा. यह नियम एक अप्रैल 2020 से लागू होगा. इस संबंध में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी कर इस पर लोगों की राय मांगी है.
 
मोदी सरकार का आदेश- RC और DL से लिंक से कराना होगा मोबाइल नंबर वाहन रजिस्ट्रेशन के लिए मोबाइल नंबर जरूरी (फाइल फोटो-IANS)
वाहन रजिस्ट्रेशन के लिए मोबाइल नंबर जरूरी होगाकेंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने अधिसूचना जारी की
अब वाहनों के दस्तावेजों यानी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी), ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल), पॉल्यूशन सर्टीफिकेट समेत अन्य को मोबाइल नंबर से लिंक कराना जरूरी हो जाएगा. यह नियम एक अप्रैल 2020 से लागू होगा. इस संबंध में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी कर इस पर लोगों की राय मांगी है.
 
इस संबंध में लोग 30 दिन के अंदर यानी 29 दिसंबर तक अपने सुझाव सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय को भेज सकते हैं. यह मामला उस समय सामने आया, जब बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट ने पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल को मंजूरी दी. इस बिल का मकसद पब्लिक और प्राइवेट कंपनियों के लिए पर्सनल डेटा को रेगुलेट करने की व्यवस्था करना है.
 
माना जा रहा है कि वाहन के दस्तावेजों से मालिक के मोबाइल नंबर के लिंक होने से गाड़ी चोरी होने की जानकारी जुटाने में मदद मिलेगी. वाहन दस्तावेजों के साथ मोबाइल नंबर लिंक होने से गाड़ी की चोरी, खरीद-फरोख्त पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी.
 
इसके अतिरिक्त वाहन डाटा बेस में मोबाइल नंबर दर्ज होने से जीपीएस के अलावा मोबाइल नंबर की मदद से किसी भी व्यक्ति की लोकेशन का पता किया जा सकता है. इसमें विशेषकर सड़क दुर्घटना, अपराध को अंजाम देने के बाद पुलिस उक्त व्यक्ति का तुरंत पता लगा सकती है और भ्रष्टाचार से भी राहत मिलेगी.
 
साथ ही केंद्र सरकार और अन्य सरकारी संस्थाओं के पास सभी वाहनों और ड्राइविंग लाइसेंस का पूरा डाटा, मोबाइल नंबर सहित उपलब्ध होगा. अगर जरूरत पड़ी तो पुलिस, आरटीओ या कोई अन्य एजेंसी आसानी से वाहन चालक या उसके मालिक से संपर्क कर सकती है. जबकि बड़े महानगरों में इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट को लागू किया जा सकेगा.
 
 
 
 

Emerald News

 
मॉडल शिवानी सक्सेना बोली डॉ प्रियंका रेड्डी के कातिलों को हो जल्दी से जल्दी फांसी
Emerald News नई दिल्ली :  हैदराबाद तेलंगाना में एक वेटनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और उसकी हत्या के मामले में दिल्ली की रहने वाली मॉडल ( प्रोफेसर ) शिवानी सक्सेना ने मीडिया से खास बातचित में कहा की डॉ प्रियंका रेड्डी के कातिलों को जल्द से जल्द फांसी की सजा होनी चाहिए क्योकि हम सब लोगो के घरो में भी बेटी है ऐसे लोग समाज में इंसानियत के नाम पर कलंक है इनको जानवर की श्रेणी में रखना चाहिए और ऐसे लोगो को दया याचिका का भी कोई हक़ नहीं होना चाहिए अगर ऐसे केस में तुरंत फांसी होने लगी तो ऐसे जानवरो के दिलो में खौफ पैदा होगा और आगे ऐसी हरकत करने में 100 बार सोचेंगे | आपको बता दे दरअसल, महिला डॉक्टर के साथ जो हैवानियत हुई वो एक साजिश का हिस्सा थी। पीड़िता के साथ एक साजिश के तहत ही गैंगरेप हुआ था।    
प्रियंका के साथ दरिंदगी की रची गई थी साजिश
महिला की स्कूटी का टायर पंचर होना और उसके वापस लौटने के बाद पंचर बनाने की बात कहना, ये सब साजिश का हिस्सा था। इतना ही नहीं घटनास्थल से थोड़ी ही दूर वॉचमैन का घर था, जिसको इस घटना के बारे में कुछ पता नहीं चला । अब इस मामले में कई पहलू सामने आ रहे हैं। दरिंदों ने साजिश रचकर ही प्रियंका के साथ गैंगरेप और उसकी हत्या को अंजाम दिया था .

Emerald News

 
शरद पवार चाहते थे कृषि मंत्रालय और फडणवीस को हटाना, PM मोदी नहीं हुए तैयार
Emerald News नई दिल्ली: भाजपा को समर्थन देने के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) अध्यक्ष शरद पवार ने दो शर्ते रखी थीं। पहली शर्त थी केंद्र की राजनीति में सक्रिय बेटी सुप्रिया सुले के लिए भारी भरकम कृषि मंत्रालय और दूसरी देवेंद्र फडणवीस की जगह किसी और को मुख्यमंत्री बनाना। जब यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने आई तो वह सरकार बनाने के लिए इन शर्तों को मानने को तैयार नहीं हुए।
भाजपा सूत्रों ने बताया कि पार्टी नेतृत्व को लगा कि अगर महाराष्ट्र में समर्थन हासिल करने के लिए राकांपा को कृषि मंत्रालय दे दिया गया, तो फिर बिहार में पुराना सहयोगी जेडीयू रेल मंत्रालय के लिए दावा ठोक कर धर्मसंकट पैदा कर सकता है। ऐसे में प्रचंड बहुमत के बावजूद दो बड़े मंत्रालय भाजपा के हाथ से निकल सकते हैं।
सूत्रों ने पवार की दूसरी शर्त के बारे में बताया कि जिस तरह से महाराष्ट्र जैसे राज्य में देवेंद्र फडणवीस पांच साल तक बेदाग सत्ता चलाने में सफल रहे और विधानसभा चुनाव में भी पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री का चेहरा बनाकर चुनाव लड़ा, 24 अक्टूबर को नतीजे आने के दिन पार्टी मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फडणवीस के ही नेतृत्व में सरकार बनने की घोषणा की थी, इसके बाद फडणवीस की जगह किसी दूसरे को सीएम बनाने की शर्त मानना भी भाजपा के लिए नामुमकिन था और पार्टी ना शिव सेना के आगे झुकी और ना एनसीपी के लेकिन जानकारों का मानना है यह सरकार कुछ ही महीनो की रहेगी | इस पुरे प्रकरण में सबसे ज्यादा नुकसान महाराष्ट्र की जनता का हुआ क्योकि महाराष्ट्र की जनता ने अपना वोट हिंदुत्व को दिया था लेकिन दुर्भाग्य से सरकार किसी और की बन गयी इससे जनता को भी एक सबक मिला है जिस भी पार्टी को वोट दो पूर्ण बहुत का वोट दो .